Friday, January 16, 2009

अदा बन गई....

अदा बन गई तेरी जिंदगी मेरे दिल की ,
जो शर्मा के मुश्कुराए आप .


कलमा हो जैसे फ़रिश्ते पढ़ने लगे ,

महफ़िल में जबसे आए आप .


No comments:

Post a Comment