Friday, December 23, 2011

गुमनाम शायर

हमें  पता है की वक़्त के साथ लोग बादल जाते है साकी..
पर हम ने कभी उन्हें लोगो में गिना ही कहा था ....
......गुमनाम शायर  

No comments:

Post a Comment